Chand Par Kon Kon Gaya Hai : Know about 12 Brave Astronauts

दोस्तों आज हम एक ऐसे विषय के बारे में बात करने वाले हैं जिस को हम बचपन से देखते आये हैं, जिस के बारे में बचपन से कहानी सुनते आये हैं. जिसको हम मामा कहते हैं, जी हां चन्दा मामा.

हम लोग आज चाँद के बारे बात करने वाले हैं एवं जानने वाले हैं की क्या कोई ऐसा व्यक्ति है जो Chand Par Ja Chuka Hai? चाँद पर जाने वाला पहला भारतीय कौन है एवं चाँद के बारे में बहुत सारी रोचक बातें भी हम आज की पोस्ट में करने वाले हैं. वहां जाना इतना कठिन क्यों माना जाता है? तो अपनी कुर्सी की पैटी बांध लीजिये एवं आपको ले कर चलते हैं चाँद की सैर पर.

प्रकाश वर्ष में कितनी दूर आप जा सकते हैं?

Pinterest से पैसे कैसे कमाए?

Who Owns Alfa Romeo

erited Ka Matlab???

Bhautik Bhugol Ki Paribhasha

Chand Par Kon Kon Gaya Hai

दोस्तों अभी तक कुल 12 व्यक्ति ऐसे हैं जो अभी तक चन्द्रमा पर पहुंचे हैं. आपको यह जानकर हैरानी होगी की यें सभी 12 के 12 अंतरिक्ष यात्री (astronaut) सयुंक्त राज्य अमेरिका या USA से ही हैं. Chand Par जाने का सिलसिला 21 जुलाई 1971 से शुरू हुआ एवं आखरी अंतरिक्ष यात्री ने 14 दिसम्बर 1972 को चाँद पर कदम रखा था. आईये इस से पहले की आगे बढ़ें, सबसे पहले इन 12 astronaut के बारे में चर्चा करते हैं जो की Chand Par Ja Chuke Hain.

क्रमांकअंतरिक्ष यात्री का नामअंतरिक्ष यात्री की जन्म तिथिजिस तिथि में चंद्रमा पर आखरी कदम रखाअंतरिक्ष यात्री द्वारा चद्रमा पर बिताया गया कुल समयअंतरिक्ष यान का नाम
1नील आर्मस्ट्रांग5 अगस्त 193021 जुलाई 19692 घंटे 21 मिनटअपोलो 11
2बज्ज एल्ड्रिन20 जनवरी 193021 जुलाई 19692 घंटे 21 मिनटअपोलो 11
3पेटे कोरंड2 जून 193020 नवम्बर 19697 घंटे 45 मिनटअपोलो 12
4एलन बीन15 मार्च 193220 नवम्बर 19697 घंटे 45 मिनटअपोलो 12
5एलन शेपर्ड18 नवम्बर 19236 फरवरी 19719 घंटे 21 मिनटअपोलो 14
6एडगर मिश्चेल17 सितम्बर 19306 फरवरी 19719 घंटे 21 मिनटअपोलो 14
7डेविड स्कॉट6 जून 19322 अगस्त 197118 घंटे 33 मिनटअपोलो 15
8जेम्स इरविन17 मार्च 19302 अगस्त 197118 घंटे 33 मिनटअपोलो 15
9जॉन यंग24 अगस्त 193023 अप्रैल 197220 घंटे 14 मिनटअपोलो 16
10चार्ल्स डुके3 अक्टूबर 193523 अप्रैल 197220 घंटे 14 मिनटअपोलो 16
11जीन करनेन14 मार्च 193414 दिसम्बर 197222 घंटे 2 मिनटअपोलो 17
12हैरिसन श्चामिट3 जुलाई 193514 दिसम्बर 197222 घंटे 2 मिनटअपोलो 17

अतः हमने देखा की सयुंक्त राज्य अमेरिका के कुल 12 astronauts कुल 6 अंतरिक्ष यानों में सवार होकर चंद्रमा पर कदम रखने वाले कुछ खास व्याक्तिओं में शामिल हो चुके हैं.

दोस्तों अब अगर हम इस विषय पर चर्चा करने वाले हैं की Chand Par  अभी तक कौन कौन गए हैं, लेकिन अगर चाँद पर जाने वाले लोगो के जीवन पर जरा भी चर्चा ना करें तो यह उनके साथ ना इंसाफी होगी. इस पोस्ट के आगे आने वाले भाग में हम इन सभी 12 अंतरिक्ष यात्रियों के बारे में थोडा बहुत जानने का प्रयास करते हैं.

Chand Par Kon Kon Gaya Hai

Neil Armstrong

नील आर्मस्ट्रांग चंद्रमा की सतह पर कदम रखने वाले पहले व्यक्ति बने एवं इतिहास में हमेशा की लिए अमर हो गए हैं. जब भी यह प्रश्न पूछा जायेगा की Chand Par जाने वाले सबसे पहले अन्तरिक्ष यात्री कौन थे तो Neil Armstrong का नाम सबसे पहेले आएगा.

इनका पूरा नाम नील अल्देन आर्मस्ट्रांग था, इनका जन्म 5 अगस्त 1930 को हुआ था. इनका जन्म सयुंक्त राज्य अमेरिका के ऑहियो प्रान्त में हुआ था. एरोनॉटिक्स में इंजीनियरिंग करने के बाद Neil Armstrong थल सेना में पायलट के रूप में भर्ती हुए. विभिन्न मिशन को पूरा करते हुए एवं विभिन्न पदों पर रहते हुए Neil Armstrong ने वर्ष 1962 में नासा को ज्वाइन किया. वर्ष 1966 में नासा के अंतरीक्ष यान जैमिनी 8 के द्वारा अंतरीक्ष में यात्रा करने वाले पहेले अंतरीक्ष यात्री बने. 21 जुलाई वर्ष 1969 को अपोलो 11 अंतरीक्ष  यान के द्वारा चाँद पर पहुचकर मानव इतिहास में हमेशा के लिए अमर हो गए.

1969 में, राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन ने नील आर्मस्ट्रांग को संयुक्त राज्य अमेरिका के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार प्रेसिडेंशियल मेडल ऑफ फ्रीडम से सम्मानित किया. इस पुरस्कार ने अंतरिक्ष खोजों में उनके महत्वपूर्ण योगदान और अपोलो 11 मिशन में उनकी  प्रमुख भूमिका को दर्शाता है.

चंद्रमा पर पहुचकर जो Neil Armstrong ने बोला वो इस महत्त्व को दर्शाता है की मेरे द्वारा लिया गया यह छोटा सा कदम मानवता द्वारा लिया गया बहुत बड़ा कदम साबित होगा.

आप हमारी इस पोस्ट में Bhugol Ka Janak Kise Kaha Jata Hai, के बारे में पढ़ सकते हैं.

Buzz Aldrin

Buzz Aldrin का जन्म 20 जनवरी वर्ष 1930 मे जन्म सयुंक्त राज्य अमेरिका के न्यू जर्सी  प्रान्त में हुआ था. Buzz Aldrin ने अपनी इंजीनियरिंग की डिग्री मेकनिकल ब्रांच से पूरी की थी . वर्ष 19 51 में Buzz Aldrin ने US एयरफोर्स को ज्वाइन किया एवं कोरियन वॉर में प्रमुख भूमिका निभाने के लिए जाने जाते हैं. इन्होने लगभग 50 से अधिक सफल उडान भरी एवं दुश्मन की 2 मिग विमानों  को मार गिराया था.

युद्ध के उपरांत  Buzz Aldrin ने astronautics में doctorate प्राप्त किया नासा के अंतरीक्ष यात्री के रूप में चुना गया. यह बात भी ध्यान देने योग्य है की  Buzz Aldrin पहेले ऐसे अंतरीक्ष यात्री थे जिन्होंने doctorate की डिग्री प्राप्त की थी.

21 जुलाई वर्ष 1969 में Neil Armstrong के साथ चंद्रमा पर कदम रखने वाले एवं Chand Par Kon Kon Gaya Hai के प्रश्न के उत्तर में दूसरे क्रम पर हैं.

1969 में, राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन ने नील आर्मस्ट्रांग के साथ साथ Buzz Aldrin को भी  संयुक्त राज्य अमेरिका के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार प्रेसिडेंशियल मेडल ऑफ फ्रीडम से सम्मानित किया. इस पुरस्कार ने अंतरिक्ष खोजों में उनके महत्वपूर्ण योगदान को दर्शाता है.

Pete Conrad

Pete Conrad दुनिया के तीसरे इसे व्यक्ति थे जिन्होंने चंद्रमा पर कदम रखा था. इनका जन्म 2 जून वर्ष 1930 में Philadelphia प्रान्त में हुआ था. Pete Conrad बचपन में ड़ीलेक्सिया बीमारी से पीड़ित थे, एवं 11वी कक्षा में फ़ैल होने के कारण स्कूल से निकल दिए गए थे. Pete Conrad को Charles “Pete” Conrad Jr के नाम से भी बुलाया जाता था.

दुसरे स्कूल में दाख़िला लेकर अपनी पढाई पूरी की. मात्र 16 वर्ष की उम्र में इन्होने अपने फ्लाइट instructor की जान बचायी एवं हाई स्कूल की पढ़ाई पूरी करने से पहेले ही पायलट certificate प्राप्त कर चुके थे. वर्ष 1953 में  एरोनॉटिक्स में इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करने के उपरांत वर्ष 1969 में US एयरफोर्स में कप्तान बने.

1962 में, उन्हें नासा द्वारा अंतरिक्ष यात्रियों के दूसरे समूह में एक अंतरिक्ष यात्री के रूप में चुना गया था, जिसे “न्यू नाइन” के रूप में जाना जाता था. कॉनराड ने चार प्रमुख अंतरिक्ष मिशनों पर उड़ान भरी, जेमिनी 5, जेमिनी 11, अपोलो 12, और स्काईलैब 2 (स्काईलैब अंतरिक्ष स्टेशन के लिए पहला मानव मिशन भी था).

20 नवम्बर 1969 में अपोलो 12 में Commander की भूमिका निभाते हुए चद्रमा पर कदम रखा एवं Chand पर जाने वाले तीसरे क्रम के अंतरीक्ष बने.

Alan Bean

Alan Bean का जन्म सयुंक्त राज्य अमेरिका के टेक्सास प्रान्त में 15 मार्च को वर्ष 1932 मे जन्म हुआ था. High School की परीक्षा पास करने के उपरांत Alan Bean ने एयरफोर्स रिज़र्व के रूप में दाख़िला लिया.

अमेरिकी नौसेना में प्रशिक्षण पूरा करने के बाद, वर्ष 1963 में इन्हें नासा के अंतरीक्ष यात्री के रूप में चुना गया. बीन ने नासा द्वारा 1963 में चयनित होने का सम्मान प्राप्त किया, जो “ग्रुप 3” या “फॉरटीन” समूह के रूप में जाना जाता है. उन्होंने अपोलो 9 के लिए चाँद के मॉड्यूल पायलट के रूप में और अपोलो 12 के लिए चाँद के मॉड्यूल पायलट के रूप में भी कार्य किया था.

20 नवम्बर 1969 में अपोलो 12 को Alan Bean ने पायलट के रूप में चंद्रमा पर कदम रखा एवं 7 घंटे 45 मिनट तक चंद्रमा की सतह पर रहे एवं Chand पर पहुचने वाले अन्तरिक्ष यात्रिओं में चोथे नंबर पर हैं.

Alan Shepard

Alan Shepard चंद्रमा पर कदम रखने वाले दुनिया के पांचवे  व्यक्ति थे. इनका जन्म 18 नवंबर  वर्ष 1923 में New Hampshire प्रान्त में हुआ था. यह बात ध्यान देने योग्य है की Alan Shepard सयुंक्त राज्य अमेरिका के प्रथम एवं युरी गागरिन के बाद अंतरीक्ष में सफ़र करने वाले दुनिया के दुसरे व्यक्ति थे. Alan Shepard ने वर्ल्ड वॉर 1 एवं वर्ल्ड वॉर 2 में प्रमुख भूमिका निभायी एवं लेफ्टिनेंट कर्नल तक पदौन्नत हुए. ये बचपन में पढ़ाई में बहुत अद्भुत थे एवं इनकी प्रतिभा से प्रभावित होकर इनके अध्यापको ने इन्हें 2 कक्षाओं को छुड़वाते हुए अगली कक्षाओं में दाख़िला करवा दिया.

जल सेना में पायलट रहते हुए   इन्हें नासा के लिए चुना गया. 47 वर्ष की उम्र में  6 फरवरी 1971 को अपोलो 14 अंतरीक्ष यान के कमांडर के रूप में इन्होने चद्रमा की सतह पर कदम रखा. ऐसा कहा जाता है की  Alan Shepard ने चंद्रमा के सतह पर गोल्फ भी खेला था. Chand पर पहुचने वाले अन्तरिक्ष यात्रिओं में Alan Shepard पांचवें स्थान पर हैं.

Edgar Mitchell

Edgar Mitchell का जन्म सयुंक्त राज्य अमेरिका के टेक्सास प्रान्त में 17 सितम्बर को वर्ष 1930 मे हुआ था. 1984 में High School की परीक्षा पास करने के बाद Edgar Mitchell  ने बेचुलर ऑफ़ साइंस की डिग्री प्राप्त की एवं थल सेना को ज्वाइन किया.

वर्ष 1966  में इन्हें नासा के पांचवे अंतरीक्ष यात्रिओं के समूह के रूप में चुना गया. 6 फरवरी 1971 को अपोलो 14 अंतरीक्ष यान में Edgar Mitchell ने चंद्रमा पर कदम रखा एवं Chand पर जाने वाले लोगो में से 6th वे क्रम पर हैं.

David Scott

David Scott का पूरा नाम David Randolph Scott था. इन्होने अंतरीक्ष में कुल 22 दिन 18 घंटे एवं 54 मिनट बिताएं हैं.  ये दुनिया के सातवे ऐसे व्यक्ति बने थे जिन्होंने चंद्रमा पर कदम रखा. इनका जन्म 6 जून को  वर्ष 1932 में टेक्सास प्रान्त में हुआ था. David Scott के पिता अमिरीकी वायु सेना में पायलट थे एवं ब्रिगेडयर जर्नल के पद तक पहुंचे. इसी कारण से David Scott का बचपन से ही पायलट बनने का सपना था.

मिलट्री साइंस में बेचुलर ऑफ़ साइंस की डिग्री प्राप्त करने की बाद इन्हें us एयरफोर्स में सम्मलित किया गया. David Scott  2 अगस्त 1971 अपोलो 15 अंतरीक्ष यान में चंद्रमा पर पहुचे एवं 18 घंटे 33 मिनट रहे एवं Chand पर पहुचने वाले अन्तरिक्ष यात्रिओं में चंद्रमा पर कदम रखने वाले 7वे अंतरीक्ष यात्री बने.

Chand Par Kon Kon Gaya Hai

James Irwin

James Irwin का पूरा नाम James Benson Irwin था. इनका जन्म सयुंक्त राज्य अमेरिका के Pennsylvania प्रान्त में 17 मार्च को वर्ष 1930 को हुआ था. James Irwin  के पिता James William Irwin ने प्रथम विश्व युद्ध में  सयुंक्त राज्य अमेरिका का प्रतिनिधित्व किया था. अतः बचपन से ही इरविन परिवार में फाइटर प्लेन चलाने का माहौल था. एरोनॉटिक्स में इंजीनियरिंग करने के बाद James Irwin ने फ्लाइट ट्रेनिंग को शुरू किया. 1961 में एक प्लेन दुर्घटना में इनकी जान जाते जाते बची.

वर्ष 1966 में James Irwin को नासा द्वारा अन्तरिक्षीय अभियानों के लिए चुने गए 19 पायलट में शामिल किया गया. इन्होने अपोलो 10, अपोलो 12 मिशन में भी सक्रिय भूमिका निभाई थी. 2 अगस्त 1971 में अपोलो 15 अंतरीक्ष यान में commander के रूप में चन्द्रमा पर कदम रखे एवं कुल मिलाकर 18 घंटे 33 मिनट तक चंद्रमा की सतह पर रहे.

Chand पर जाने वाले लोगो में से James Irwin 8 क्रम पर रहेंगे. आपको यह बताना भी उचित होगा की चंद्रमा पर पहुचें लोगो में से James Irwin का निधन सबसे पहेले हुआ था.

John Young

John Young का पूरा नाम John Watts Young था. John Young थल सेना में पायलट थे एवं इन्हें 4 अलग अलग यानो के साथ अंतरीक्ष में जाने का अनुभव है , ऐसा करने वाले ये विश्व के प्रथम व्यक्ति थे. John Young दुनिया के 9th व्यक्ति थे जिन्होंने चंद्रमा पर कदम रखा था. इनका जन्म 24  सितम्बर वर्ष 1930 में कलिफोर्निया प्रान्त में हुआ था. एरोनॉटिक्स में इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करने के उपरांत वर्ष John Young हेलीकाप्टर पायलट के रूप में आगे बढते रहे. वर्ष 1969 में इन्हें नासा द्वारा चुन लिया गया.

अपोलो 16 में Commander की भूमिका निभाते हुए John Young 23 अप्रैल 1972 को चद्रमा पर कदम रखने वाले एवं Chand पर पहुचने वाले अन्तरिक्ष यात्रिओं में से 9वे अंतरीक्ष यात्री बने.

Charles Duke

Charles Duke का पूरा नाम Charles Moss Duke Jr. था. इनका जन्म सयुंक्त राज्य अमेरिका के नार्थ कैरोलाइना प्रान्त में 3 अक्टूबर को वर्ष 1935 मे हुआ था. ये चंद्रमा पर पहुचने वाले 10वे एवं सबसे कम उम्र के अंतरीक्ष यात्री बने. जब Charles Duke ने चंद्रमा पर कदम रखा तो इनकी उम्र 36 साल, 201 दिन थी.

23 अप्रैल 1972 को अपोलो 16 के पायलट के रूप में अपने Commander John Young के नेत्रत्व में  चंद्रमा पर कदम रखा एवं विभिन्न परीक्षण करते हुए 20 घंटे 14 मिनट तक चंद्रमा की सतह पर रहे.

Chand पर जाने वाले लोगो में से Charles Duke 10वे क्रम पर हैं.

Gene Cernan

Gene Cernan दुनिया के 11वे व्यक्ति थे जिन्होंने चंद्रमा पर कदम रखा था. इनका जन्म 14 मार्च  वर्ष 1934 में शिकागो प्रान्त में हुआ था. वर्ष 1956 में इलेक्ट्रिकल में इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करने के उपरांत Gene Cernan ने थल सेना में पायलट के रूप में अपने कैरियर की शुरुवात की. इनके नाम 5000 से अधिक घंटो 200 से अधिक बार सफल फाइटर प्लेन उड़ने का अनुभव हो चुका था.

Gene Cernan ने 14 दिसम्बर 1972 के दिन अपोलो 17 अंतरीक्ष यान में Commander की रूप में चद्रमा की सतह पर कदम रखा. आपको यह भी बता दें की Gene Cernan ने कुल 3 बार अंतरीक्ष की यात्रा की एवं 2 बार चाँद तक भी पहुंचे. एक और बात आपको बता दें, Gene Cernan ने ना केवल आखरी अन्तरिक्ष यान (14 दिसम्बर 1972 से आज दिनांक तक ) अपोलो 17 के commander की भूमिका निभाई बल्कि चाँद पर आखरी बार कदम रखने वाले व्यक्ति भी बने.

Harrison Schmitt

Harrison Schmitt का पूरा नाम Harrison Hagan “Jack” Schmitt है. ये पहले इसे अंतरीक्ष यात्री बने जो बिना मिलिट्री बैकग्राउंड के चाँद तक पहुचे. Harrison Schmitt न्यू मेक्सिको प्रान्त से सीनेटर भी रहे हैं. इनका जन्म सयुंक्त राज्य अमेरिका के न्यू मेक्सिको प्रान्त में 3 जुलाई वर्ष 1935 मे हुआ था. High School की परीक्षा पास करने के बाद Harrison Schmitt ने जियोलॉजी में बेचुलर ऑफ़ साइंस की डिग्री प्राप्त की. Harrison Schmitt नासा के द्वारा चुने गए साइंटिस्ट अंतरीक्ष यात्रीयों के समूह में शामिल थे.

14 दिसम्बर 1972 को अपोलो 17 अन्तरिक्ष यान में जियोलॉजिस्ट के रूप में कदम रखा. अपने कमांडर Gene Cernan के साथ चाँद पर कदम रखने वाले अंतिम दो लोगो में शुमार हुए,  हालाकि Gene Cernan आखरी तक चन्द्रमा पर रहे एवं “लास्ट मैन टू वाल्क ओंन दा मून ” बने.

अधिक जानकारी के लिए आप यहाँ विकिपीडिया पर विजिट कर सकते हैं

इस तरह से हमने देखा की Chand पर जाने वाले लोगो में से आप 12 अंतरीक्ष यात्रिओं का नाम ले सकते हैं जिनकी जानकारी विस्तार पूर्वक इस पोस्ट में दी गयी है.

FAQ on Chand Par Kon Kon Gaya Hai

आइये इस सेक्शन में चंद्रमा से सम्बंधित कुछ प्रमुख प्रश्नों को देखते हैं –

चाँद पर जाने वाला पहला भारतीय कौन है ?

चाँद पर अभी तक कोई भारतीय व्यक्ति नहीं गया है हालाकि अंतरीक्ष में जाने वाले प्रथम भारतीय राकेश शर्मा थे. चाँद पर जाने वाले सभी अन्तरिक्ष यात्रिओं में सबसे पहले Neil Armstrong गए थे. अगर कोई आपसे पूछे की Neil Armstrong Kaun The? तो इसके उत्तर में आप बोल सकते हैं की

Chand per kaun gaya hai? विस्तार से बताएं.

Chand per कुल 12 अंतरीक्ष यात्री गए हैं. अगर आप इस विषय के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो इसकी जानकारी ऊपर पोस्ट में दी गई है.

क्या कोई अभी तक सूरज पर गया है ?

सूरज पर अभी कोई मानव नहीं जा पाया है.

चांद पृथ्वी से कितनी दूर है ?

चाँद एवं पृथ्वी के बीच की दुरी 3,84,400 किलोमीटर है.

क्या चांद पर पानी है ?

वर्ष 2020 में नासा ने अपने एवं भारतीय उपग्रहों की मदद से विभिन्न परीक्षण करने के उपरांत यह घोषणा की थी चंद्रमा की सतह पर पानी मौजूद है.

मंगल ग्रह पर कौन-कौन गया है ?

मंगल ग्रह पर अभी तक कोई व्यक्ति नहीं गया है.

चांद पर कैसे जाते हैं ?

चाँद पर अंतरीक्ष यान की मदद से जाया जाता है.

Download PikaShow : World Best Free Video Provider App

StbEmu : Watch Internet TV in your Mobile 

Stream India : Watch IPL on your Mobile

उम्मीद करते हैं की इस पोस्ट के द्वारा Chand Par Kon Kon Gaya Hai के बारे आप सब कुछ बता सकते हैं एवं आप चाँद पर जाने वाले सभी 12 व्यक्तिओं के नाम एवं उनके बारे में बता सकते हैं. अगर आपको कोई प्रश्न पूछना है तो कृपया कमेंट बॉक्स में लिख कर पूछ सकते हैं.

This Post Has 3 Comments

Leave a Reply